• इससे पहले परिवहन मंत्रालय ने 30 मार्च को गाड़ियों के फिटनेस सर्टिफिकेट, ड्राइविंग लाइसेंस की वैलिडिटी की मियाद 3 महीने बढ़ाई थी
  • केंद्रीय परिवहन मंत्री ने ट्वीट किया- मौजूदा स्थिति में आम नागरिकों और ट्रांसपोर्टर्स को परेशानी न हो, इसलिए यह रियायत दी गई है

दैनिक भास्कर

Jun 10, 2020, 01:14 AM IST

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने कोरोनावायरस को ध्यान में रखते हुए ड्राइविंग लाइसेंस, गाड़ी के रजिस्ट्रेशन और फिटनेस की वैलिडिटी 30 सितंबर तक और बढ़ा दी। पहले 30 जून आखिरी तारीख थी। मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट कर यह जानकारी दी।मंगलवार को इस संबंध में आदेश जारी हो गए और सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को इस संबंध में एडवायजरी जारी की गई। 

इससे पहले परिवहन मंत्रालय ने 30 मार्च को कोरोना संकट की वजह से गाड़ियों के फिटनेस सर्टिफिकेट, परमिट, ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की वैलिडिटी की मियाद 30 जून तक बढ़ाई थी। यह छूट उन गाड़ियों के लिए थी, जिसकी वैलिडिटी 1 फरवरी 2020 से 31 मई के बीच खत्म हो रही थी। सरकार ने सभी एजेंसियों को निर्देश दिए थे वैधता खत्म होने के बाद भी वे तीस जून तक सभी दस्तावेजों को वैध मानें। 

लॉकडाउन के बाद से आरटीओ बंद हैं

यह आदेश कोरोनावायरस की वजह से 25 मार्च को लागू किए गए लॉकडाउन के बाद आया था। सरकार ने लॉकडाउन में सभी सरकारी ऑफिसों के अलावा गैर जरूरी सेवाओं से जुड़े कार्यालयों को बंद कर दिया था। इस वजह से लोग गाड़ियों का फिटनेस, परमिट और लायसेंस रिन्यू नहीं करा पाए थे। अभी भी कई राज्यों में 30 जून तक लॉकडाउन है। ऐसे में दस्तावेजों को रिन्यू कराने में परेशानी आएगी। इसे देखते हुए ही यह फैसला लिया गया है। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here