Tata Sky ने अपने 70 लाख ग्राहकों को डायरेक्ट-टू-होम (DTH) प्लेटफॉर्म पर बनाए रखने के लिए चैनल व सब्सक्रिप्शन पैक को बंद कर दिया है। यह नया कदम 15 जून के बाद लागू हो जाएगा, जिसका उद्देश्य उन ग्राहकों की मदद करना है जो भारत में कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण आर्थिक रूप से प्रभावित हुए हैं और अपना टाटा स्काई भुगतान करने में असफल रहे हैं। टाटा स्काई ने सभी प्रभावित ग्राहकों को 15 दिन का नोटिस भेजा है। आपको बता दें, टाटा स्काई ने देखा है कि उनके 50 लाख सब्सक्राइबर्स में से 70 प्रतिशत लोगों ने पिछले महीने टाटा स्काई वेबसाइट या फिर App पर लॉग-इन किया था, वजह थी या तो वो अपना सब्सक्रिप्शन बंद करना चाहते थे या फिर अपने मासिक बिल को कम करना चाहते थे।

Tata Sky के नए कदम का उद्देश्य ग्राहकों के मासिक बिल को 350 रुपये या फिर उससे कम बनाए रखना है। हालांकि, टाटा स्काई ने उन ग्राहकों के बारे में कोई जानकारी मुहैया नहीं कराई है, जो अपने मौजूदा सब्सक्रिप्शन पैक को बंद करना चाह रहे थे या फिर बदलना चाह रहे थे। टाटा स्काई के प्रवक्ता ने Gadgets 360 को दिए अपने बयान में बताया कि यह जानकारी एनालिटिक्स इंज़न द्वारा हासिल की गई है। प्रवक्ता ने अपने ईमेल किए बयान में कहा “हम अपने सब्सक्राइबर्स के पैक व चैनल सिलेक्शन को ऑप्टिमाइज़ करके उनके मासिक बिल को उचित बनाने में मदद करना चाहेंगे।”

इसके अलावा टाटा स्काई ग्राहकों को बंद किए गए चैनल व पैक को दोबारा सब्सक्राइब करने की भी सुविधा प्रदान करेगा, वो भी केवल एक मिस्ड कॉल के जरिए।

Livemint की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में कोरोना वायरस लॉकडाउन के चलते टाटा स्काई ने अपने लगभग 15 लाख सब्सक्राइबर्स को खोया है। हालांकि, इस नए कदम को लेकर कहा गया है कि यह उन चुनिंदा सब्सक्राइबर्स को प्रति महीने 60 से 100 रुपये तक की बचत करने में मदद करेगा। लेकिन फिर भी यह साफ नहीं है कि यह कदम ग्राहकों को DTH सब्सक्रिप्शन में बनाए रखने में मदद करेगा भी या नहीं, क्योंकि देश में टेलीविज़न की व्यूवरशिप घटती जा रही है, वजह में ऑनलाइन स्ट्रीमिंग आदि शामिल है।

पिछले हफ्ते टाटा स्काई के मैनेजिंग डायरेक्ट हरित नागपाल ने The Economic Times को बताया कि उनके 10 लाख जा चुके ग्राहक मार्च में वापस प्लेटफॉर्म पर आए थे। लेकिन, जब सरकार ने देश में लॉकडाउन लागू किया, तब 10 लाख यूज़र्स अप्रैल में प्लेटफॉर्म से चले गए और 5 लाख लोगों ने मई में अपना टाटा स्काई रीचार्ज नहीं करवाया था।

मार्च में, टाटा स्काई ने अपने डिएक्टिवेट ग्राहकों को 7 दिन का बैलेंस लोन ऑफर किया था, ताकि वह दोबारा इस प्लेटफॉर्म पर लौट सकें। वहीं, अप्रैल में कंपनी ने Citibank के साथ टाइअप करके वार्षिक रीचार्ज पर 2 महीने की मुफ्त सुविधा प्रदान की थी।
 

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here