• मोदी ने पहली बार किसी दूसरे देश के नेता से वर्चुअली चर्चा की
  • मॉरिसन मई में भारत आने वाले थे, लेकिन दौरा रद्द हो गया था

दैनिक भास्कर

Jun 04, 2020, 12:23 PM IST

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने आज वर्चुअल समिट के जरिए चर्चा की। इस दौरान दोनों नेताओं में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच द्विपक्षीय संबंध मजबूत करने को लेकर बातचीत हुई। मोदी ने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध मजबूत करने का ये सबसे सही वक्त है। मॉरिसन ने कहा- आपने जैसा कहा, ठीक वैसे ही हमारे संबंध मजबूत होंगे। 

मोदी ने मॉरिसन की तारीफ करते हुए कहा कि कोरोना संकट में आपने ऑस्ट्रेलिया में रह रहे भारतीय समुदाय और छात्रों का जिस तरह ध्यान रखा उसके लिए आभारी हूं। वहीं, मॉरिसन ने कहा कि अगली बार मुलाकात होगी तो हम गले मिलेंगे और गुजराती खिचड़ी खाएंगे। हमारी अगली मुलाकात से पहले मैं किचन गुजराती खिचड़ी बनाने की कोशिश करूंगा।

भारत-ऑस्ट्रेलिया के संबंध इंडो पैसिफिक क्षेत्र के लिए अहम: मोदी
मोदी ने कहा कि हमारे नागरिकों की अपेक्षाएं बढ़ गई हैं। आज जब अलग-अलग तरह से डेमोक्रेटिव वैल्यू को कमजोर किया जा रहा है तो हमें आपसी संबंध मजबूत करने चाहिए। ये सिर्फ दो देशों के लिए नहीं, बल्कि पूरे इंडो पैसिफिक क्षेत्र के लिए जरूरी है। दुनिया को कोरोना महामारी से निकालने के लिए कॉर्डिनेटिव अप्रोच की जरूरत है। भारत ने इसे मौका माना है। हमने बड़े स्तर पर रिफार्म प्रोसेस शुरू की है, जल्द इसके नतीजे सामने आएंगे।

भारत आपदाओं से अच्छी तरह निपट रहा: मॉरिसन
मॉरिसन ने मोदी से कहा कि हम पहली बार वर्चुअल फार्मेट में बात कर रहे हैं। भारत-ऑस्ट्रेलिया के मूल्य और लोकतंत्र एक जैसे हैं। दुनिया तकनीक के जरिए आगे बढ़ रही है और आज की बातचीत इसका उदाहरण है। कोरोना और दूसरी आपदाओं पर मॉरिसन ने कहा कि वाकई सभी देशों के लिए काफी मुश्किल वक्त है। अम्फान तूफान और विशाखापट्टनम में गैस लीक जैसे हादसे हुए। इस दौरान आपने बार फिर खुद को साबित किया।

मोदी ने मॉरिसन को भारत आने का न्यौता दिया
मोदी ने कहा- हम पर्सनली नहीं मिल सके, इसका अफसोस है। हालात सुधरने के बाद आप परिवार के साथ भारत आने का प्लान बनाएं। पिछले कुछ सालों में हमारा तालमेल अच्छा रहा है। यह खुशी बात है कि हमारे संबंधों की बागडोर आप जैसे मजबूत और दूरदर्शी नेता के हाथ में है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here