• भाजपा के ‘सेवा ही संगठन’ कार्यक्रम के जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत
  • मोदी ने पूछा- कोरोना महामारी के दौर में उन्होंने सेवा के कौन से काम किए
  • भाजपा की प्रदेश इकाइयों ने प्रधानमंत्री के सामने अपनी-अपनी रिपोर्ट पेश कीं

दैनिक भास्कर

Jul 04, 2020, 06:32 PM IST

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा के ‘सेवा ही संगठन’ कार्यक्रम के जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। मोदी ने कहा- साथियों हमारे लिए हमारा संगठन चुनाव जीतने की मशीन नहीं है, हमारे लिए संगठन का मतलब है सेवा। मैं आग्रह करता हूं कि हम हर मंडल की एक डिजिटल बुकलेट इस पूरे काम को समेटते हुए बनाएं। इसके बाद पूरे जिले और फिर राज्य और फिर देश की एक डिजिटल बुक बने। यह ऐसी चीज है जो भविष्य में प्रेरणा देने वाली है। 25 सितंबर को पं दीनदयाल उपाध्याय जी की जयंती है। हम तय करें कि तब तक हम ये डिजिटल बुक बनाएं। इसे हम लॉन्च करेंगे।

उन्होंने कहा- यह मानव इतिहास की बहुत बड़ी घटना है। इसलिए यह जरूरी है। इसका तीन भाषाओं में अनुवाद हो। हिंदी, अंग्रेजी और मातृभाषा में। जिन्होंने भी इस दौर में सेवा की सभी अभिनंदन के अधिकारी हैं। मुझे अभी सात राज्यों का वृत्त सुनने का अवसर मिला। अन्य राज्यों से अनुरोध करूंगा कि वे अगर अपना वृत्त लिखकर भेजें, मैं उसे देखूंगा। मैं समय सीमा के कारण सात राज्यों से ही बात कर पाया। एक बार फिर सभी का अभिनंदन करता हूं।

कार्यकर्ताओं से अनुरोध

मोदी बोले- एक ऐसे समय में जब दुनिया में सब अपने आप को बचाने में लगे हों, आपने अपनी चिंता छोड़कर खुद को गरीबों-जरूरतमंदों की सेवा में समर्पित कर दिया। यह सेवा का बहुत बड़ा उदाहरण है। कई शहरों में हमारे साथी खतरे को जानते हुए भी कार्य करते रहे। ऐसे कई साथियों ने शरीर छोड़ दिया। उनका दुखद निधन हो गया। ऐसे साथियों को विनम्र श्रद्धांजलि देता हूं। उनके परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। उन राज्यों की इकाइयों से अनुरोध करता हूं कि इन परिवारों को संभालें। इससे पहले मोदी ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए राष्ट्र की सेवा करना सबसे पहला धर्म है। इस चुनौतीपूर्ण समय में, हमारे कार्यकर्ता भारत भर में अथक प्रयास करके जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं।

कार्यकर्ताओं की प्रशंसा

मोदी ने कहा- हमारे यहां कहा जाता है कि जिसकी हम सेवा करते हैं उसका सुख ही हमारा संतोष है। इसी भावना से गरीबों के प्रति इसी भाव से हमारे कार्यकर्ताओं ने सेवा ही संगठन का इतना बड़ा अभियान चलाया। आज मैंने जब प्रेजेंटेशन देखा तो मुझे बड़ा अचरज हुआ। मुझे पता था कि आप कार्य कर रहे हैं, लेकिन लॉकडाउन के बीच अभाव और खतरे के बीच लाखों लोगों का सहारा बने। उनके साथी बने, यह बहुत बड़ा काम है। 

इस कार्यक्रम के दौरान भाजपा की प्रदेश इकाइयों ने प्रधानमंत्री के सामने अपनी-अपनी रिपोर्ट पेश की। इसमें बताया गया कि कोरोनावायरस महामारी के दौरान उनकी ओर से कौन से कल्याणकारी काम किए। आज राज्यों की ओर से किए गए सेवा के कामों का प्रेजेंटेशन किया जा रहा है। सबसे पहले राजस्थान की ओर से जानकारी दी गई। मोदी ने कहा- जनता के सुख दुख में कंधा से कंधा मिलाकर कैसे खड़े होते हैं यह राजस्थान की भाजपा इकाई ने करके दिखाया है। मैं बहुत-बहुत बधाई देता हूं राजस्थान की टीम को।

राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा की तारीफ

राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने भी हर दिन अपने घर से 500 लोगों को खाना पहुंचाने का काम किया। साथियों दुनिया की नजरों में आप कोरोनाकाल में काम कर रहे थे, लेकिन मैं मेरे नजरिए से कहूंगा कि आप अपने आदर्शों और व्यवहारों के बीच खुद को तपा रहे थे। इस आफत को आपने अवसर में बदल दिया। भाजपा का कार्यकर्ता डिजिटल एक्टिविटी में माहिर होता जा रहा है।

जिस पार्टी के सैकड़ों सांसद, हजारों एमएलए हों उसका हर कार्यकर्ता सेवा को ही अपना कर्तव्य माने, जीवन मंत्र माने, भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यकर्ता होने के नाते बहुत गर्व होता है कि हम ऐसे संगठन के सदस्य हैं। यह हमें जनसंघ के समय से उस परंपरा से यह संस्कार संक्रमित हुए। हमें अपने पूर्वगामियों की तपस्या से ये संस्कार मिले हैं। यह हमारा समर्पित जीवन आगे की पीढ़ियों के लिए भी प्रेरणा देगा।

राज्यों की ओर से किए गए सेवा के कामों का प्रेजेंटेशन

राजस्थान: राज्य के कार्यकर्ता ने कहा- सेवा परमो धर्म: मुझे खुशी है कि राजस्थान के कार्यकर्ताओं ने एक करोड़ लोगों तक भोजन पहुंचाया। 97 लाख लोगों तक राशन पहुंचाया। प्रधानमंत्री जी ने पीएम केयर का अह्वान किया। पीएम केयर में दो लाख पैंसठ हजार लोगों ने योगदान दिया। एक व्यक्ति ने तो शादी के लिए जुटाए गए चार लाख रुपए दान दे दिए। डॉक्टर, पुलिस, सफाईकर्मी समेत सभी कोरोना वॉरियर्स को शॉल-श्रीफल देकर सम्मान किया। दलित बस्तियों में जरूरत का सामान दिया। पांच लाख से ज्यादा प्रवासी श्रमिकों की मदद की।

महाराष्ट्र: राज्य के कार्यकर्ता ने बताया- किसानों के सहयोग से पांच लाख मजदूरों और गरीबों को सस्ती सब्जी उपलब्ध कराई। 70 हजार पीपीई किट बांटे, क्योंकि उस समय डॉक्टर हॉस्पिटल जाने से डर रहे थे। क्वारैंटाइन सेंटर स्थापित किए। मुंबई में एंबुलेंस उपलब्ध कराईं। कश्मीर के लिए ट्रेन गई तो उन लोगों को कुछ न कुछ चीज देने की तो लोगों में होड़ लग गई। प्रवासियों को अपने वाहन से स्टेशन तक छोड़ना। उन्हें चप्पल, खाना, कपड़े दिए। इसी दौर में तूफान भी आया। इससे प्रभावित लोगों की भी मदद की। 

बिहार: राज्य के कार्यकर्ता ने बताया- पटना में बेसहारा लोगों को भोजन कराया। हमें पहली बार पता चला कि बिहार में गोल गप्पा बेचने वाले से लेकर ईंट के भट्‌ठों तक में प्रवासी काम करते हैं। पीएम ने मास्क या गमछा बांधने का अनुरोध किया तो जनता के बीच 29 लाख मास्क बांटे गए। बाबा साहब भीमराव अंबेडकर जी की जयंती पर 23 हजार से ज्यादा गरीब बस्तियों में भोजन पहुंचाया। दूसरे राज्यों में फंसे बिहार के लोगों को लाने में मदद की। पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं ने लाखों की संख्या में मास्क बांटे।

दिल्ली: भाजपा की महिला कार्यकर्ताओं ने करीब पौने चार लाख मास्क बनाए और बांटे। सेवा का काम सोशल मीडिया के जरिए कैसे हो सकता है? यह भाजपा कार्यकर्ताओं ने कर दिखाया। कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने ट्वीट किया कि हमारे कुछ लोग दिल्ली में फंसे हैं। इस पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने बिना भेदभाव किए उनकी मदद की। इसके अलावा पार्टी की ओर से एक लाख से ज्यादा महिलाओं को सैनेटरी नैपकिन बांटे गए। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here