गूगल के लिए भारतीय मार्केट की अहमियत की अंदाजा कंपनी द्वारा गूगल मैप्स में पेश किए गए नए फीचर से लगाया जा सकता है। गूगल मैप्स एंड्रॉयड ऐप में अब टू-व्हीलर मोड भी आ गया है। इस मोड में मोटरसाइकिल, स्कूटर या अन्य दोपहिया वाहन से सफर में लगने वाले अनुमानित समय के बारे में बताया जाएगा। Google ने नए फीचर की जानकारी गूगल फॉर इंडिया इवेंट में दी। नया मोड गूगल मैप्स एंड्रॉयड ऐप में कार,पैदल और ट्रेन वाले विकल्प के बगल में नज़र आ रहा है। एंड्रॉयड ऐप के लेटेस्ट वर्ज़न में नया मोड हर यूज़र के लिए एक्टिव हो गया है।

गूगल मैप्स के नए टू-व्हीलर मोड में कस्टाइमज़्ड राउटिंग और वॉयस नेविगेशन, व इनहांस्ड लैंडमार्क नेविगेशन जैसे फीचर हैं। इस फीचर को भारत में बाइक चलाने वाले लोगों के लिए लाया गया है। जानकारी दी गई है कि यह सबसे पहले भारत में ही पेश हुआ है।

सोचा जाए तो भारत में इस किस्म का प्रोडक्ट लॉन्च करना तार्किक फैसला लगता है, क्योंकि भारत की बड़ी आबादी मोटरसाइकिल पर ही सफर करती है। इसके अलावा कई सड़कें ऐसी हैं जिन पर बड़े वाहनों के लिए पर्याप्त जगह नहीं है। गूगल ने अपने इवेंट में कहा कि भारत सबसे बड़ा दोपहिया वाहन का मार्केट है। भारत में रजिस्टर कराए गए सभी गाड़ियों का 70 फीसदी हिस्सा दो पहिया वाहनों का है। इसी वजह से इस फीचर को सबसे पहले भारत में लॉन्च किया गया है।

इससे पहले चालक बाइक के लिए सही राश्ता जानने के लिए पैदल चलने व ड्राइविंग जैसे विकल्पों को इस्तेमाल में लाते थे। अब गूगल इस खास दोपहिया वाहन मोड के लिए मशीन लर्निंग को इस्तेमाल में ला रही है।

यह मोड बाइक चलाने वालों के लिए कई किस्म की जानकारी लेकर आता है। चालक को गणतव्य तक पहुंचने में लगने वाले समय और सभी बंद राश्ते के बारे में बताया जाएगा। इसके अलावा आपको आपकी मंजिल पर मिलने वाली पार्किंग की सुविधा के बारे में भी पता चलेगा। यह फीचर कार मोड में भी उपलब्ध है।

 

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here