• देश में कोरोना से अब तक 8477 मौतें, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 3590 लोगों की जान गई
  • गुरुवार को लगातार दूसरे दिन 11 हजार से ज्यादा मरीज बढ़े, महाराष्ट्र में रिकॉर्ड 3607 और दिल्ली में 1877
  • एक महीने में मरीजों का रिकवरी रेट 11% बढ़कर 49.21% हुआ, अमेरिका से 10% ज्यादा

दैनिक भास्कर

Jun 12, 2020, 01:04 AM IST

नई दिल्ली. देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2 लाख 97 हजार 436 हो गई है। गुरुवार को लगातार दूसरे दिन 11 हजार से ज्यादा मरीज बढ़े और रिकॉर्ड 393 लोगों की जान गई। ये आंकड़े covid19india.org के आधार पर हैं। इसके अलावा भारत मरीजों के मामले में स्पेन (2.89 लाख) और ब्रिटेन (2.91 लाख) से आगे निकल गया। अब हम दुनिया में चौथे नंबर पर आ गए हैं।

फिलहाल, टॉप-7 संक्रमित देशों में अमेरिका, ब्राजील, रूस, भारत, ब्रिटेन, स्पेन और इटली हैं। लेकिन रिकवरी रेट में भारत अभी अमेरिका से बेहतर है। यहां मरीजों के ठीक होने की दर 39.12% है। वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, भारत में रिकवरी रेट बढ़कर 49.21% हो गई है।

ब्राजील में 51.14%, रूस में 51.97%, इटली में 72% रिकवरी रेट है। ब्रिटेन और स्पेन ने कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों का आंकड़ा जारी नहीं किया है। इस वजह से इन दोनों देशों का रिकवरी रेट पता नहीं चल सका है।

महाराष्ट्र और दिल्ली में रिकॉर्ड मरीज बढ़े

गुरुवार को महाराष्ट्र और दिल्ली में एक दिन में सबसे ज्यादा संक्रमित मिले। महाराष्ट्र में 3607 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई और 152 ने जान गंवाई। यहां कुल 97 हजार 648 मरीज हो गए। वहीं दिल्ली में 1877 मरीज मिले और 101 मौते हुईं। इसी के साथ राजधानी में संक्रमितों की संख्या 34 हजार 687 हो गई। दिल्ली में अब तक कोरोना से 1085 लोग दम तोड़ चुके हैं।

सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को दो अहम सुनवाई

चीफ जस्टिस एसए बोबड़े ने गुरुवार को कोरोना संक्रमितों के इलाज में बरती जा रही लापरवाही और अस्पतालों में शवों का प्रबंधन ठीक ढंग से नहीं होने पर संज्ञान लिया। शुक्रवार को जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस एमआर शाह की बेंच इस मामले की सुनवाई करेगी। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट लॉकडाउन में कामगारों की सैलरी को लेकर भी अहम फैसला सुनाएगा। दरअसल, गृह मंत्रालय ने कर्मचारियों को लॉकडाउन के दौरान 54 दिन की पूरी सैलरी देने का आदेश दिया था। इसे निजी कंपनियों ने चुनौती दी है। 

कोरोना सर्वाइवर ने बनाया स्क्रीनिंग सिस्टम

हैदराबाद में कोरोना को मात देने वाले एनआरआई पुन्ना रेड्डी ने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस आधारित स्क्रीनिंग सिस्टम बनाया है। यह सिस्टम ज्यादा तापमान वाले लोगों की पहचान कर सकता है। यह सिस्टम मास्क न पहनने वाले लोगों की जानकारी भी दे सकता है। इस सिस्टम को हैदराबाद और सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर इंस्टाल किया गया है। इससे एक सेकेंड में 30 लोगों की स्कैनिंग हो सकती है। रेड्डी ने कहा- मैं बिजनेस ट्रिप पर भारत और संक्रमित हो गया। 17 दिन अस्पताल में गुजारे। इसी दौरान ऐसा सिस्टम डिजाइन करने का विचार आया। 

देश में अब तक 1.41 लाख मरीज ठीक हुए

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि अब देश में संक्रमितों से ज्यादा संख्या ठीक होने वाले मरीजों की है। पिछले एक महीने में रिकवरी रेट 11% बढ़ी है। 18 मई को रिकवरी रेट 38.29% थी। गुरुवार को यह 49.21% हो गई। अब तक देश में 1.41 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो गए। लॉकडाउन 4 के खत्म होने तक 93 हजार 322 मरीज ठीक हो चुके थे। यानी अनलॉक-1 में 47 हजार 707 मरीज ठीक हुए, जो कुल स्वस्थ हुए मरीजों का 33% है।

दिल्ली में रिकवरी रेट सबसे कम 

देश के सबसे ज्यादा प्रभावित 7 राज्यों में से दिल्ली में रिकवरी रेट 37.52% है, जो सबसे कम है। वहीं, राजस्थान में रिकवरी रेट 73.78% सबसे बेहतर है।

अपडेट्स 

  • इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने गुरुवार को बताया कि पिछले 24 घंटे में एक लाख 51 हजार 808 सैंपल की जांच की गई। इसके साथ देश में 11 जून, सुबह 9 बजे तक 50 लाख 13 हजार 140 सैंपल की जांच की जा चुकी है।
  • दिल्ली में सीआरपीएफ का चीफ मेडिकल (सीएमओ) ऑफिसर कोरोना पॉजिटिव मिला है। सीएमओ को ओखला में एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है। इसके साथ सीआरपीएफ में संक्रमितों की संख्या 544 हो गई है। इनमें से 353 रिकवर हो गए हैं और चार की मौत हो गई।
  • तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीसामी ने कहा कि राज्य में अभी कोरोना का कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं है। कुछ जिलों में कोरोना केस कम भी हुए हैं।
  • चेन्नई के रॉयपुरम के एक शेल्टर होम में 35 बच्चे कोरोना पॉजिटिव होने की खबर पर सुप्रीम कोर्ट ने तमिलनाडु सरकार से रिपोर्ट मांगी है। साथ ही यह भी पूछा है कि बच्चों की सुरक्षा के लिए क्या कदम उठाए गए हैं।

5 दिन जब सबसे ज्यादा मामले आए

तारीख

केस
10 जून 11156
9 जून 8852
8 जून 8444 
7 जून 10884
6 जून

10428

5 राज्यों का हाल
मध्यप्रदेश: यहां गुरुवार को 192 नए मरीज सामने आए और 4 की मौत हुई। भोपाल में 85, इंदौर में 41 और उज्जैन में 14 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। प्रदेश में 10 हजार 241 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से 2768 एक्टिव केस हैं। मध्यप्रदेश में सातवां ऐसा राज्य बन गया है, जहां सबसे ज्यादा केस हैं।

भोपाल में बुधवार को हायर सेंकडरी की परीक्षा हुई। सभी स्टूडेंट्स की एग्जाम हॉल में एंट्री से पहले थर्मल स्क्रीनिंग की गई। सभी के लिए मास्क लगाना जरूरी किया गया है। 

उत्तरप्रदेश: राज्य में गुरुवार को 478 कोरोना संक्रमित मिले और 24 ने जान गंवाई। गौतमबुद्धनगर में 41, लखनऊ में 30, जौनपुर में 20, गाजियाबाद और हरदोई में 16-16 जबकि मेरठ में 18 मरीज मिले। प्रदेश में मृतकों का आंकड़ा 345 पहुंच गया है। यहां कुल 12 हजार 88 मरीज मिल चुके हैं, इनमें से 4451 एक्टिव केस हैं।

महाराष्ट्र: यहां गुरुवार को 3607 नए कोरोना मरीज मिले और 152 की जान गई। यह दोनों आंकड़े एक दिन में सर्वाधिक हैं। प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 94 हजार 648 हो गई, इनमें से 47 हजार 980 एक्टिव केस हैं। महाराष्ट्र में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 3590 हो गया है।

यह तस्वीर मुंबई के दादर चौपाटी की है। यह बीच बुधवार को खाली दिखा।

राजस्थान: यहां गुरुवार को कोरोना के 238 नए केस सामने आए और 6 मरीजों ने दम तोड़ा। जोधपुर में 62, अलवर में 44, जयपुर में 38, अजमेर में 14 और धौलपुर में 12 संक्रमित मिले। राज्य में अब मरीजों का आंकड़ा 11 हजार 838 पर पहुंच गया, इनमें से 2798 एक्टिव केस हैं। प्रदेश में कोरोना से 265 मौतें हो चुकी हैं।

बिहार: प्रदेश में गुरुवार को 250 लोगों को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई और कोई मौत नहीं हुई। सीवान में 60, मुंगेर में 36, औरंगाबाद में 19, भागलपुर और कैमूर में 10-10 जबकि मधेपुरा में 16 मरीज मिले। संक्रमितों की कुल संख्या 5948 हो गई, इनमें से 2828 एक्टिव केस हैं। बिहार में कोरोना से 34 लोगों की जान गई है।

यह भी पढ़ेंः 

1. आज 365 संक्रमितों ने दम तोड़ा: दिल्ली में मरने वालों का आंकड़ा एक हजार के पार; महाराष्ट्र में भी 24 घंटे में रिकॉर्ड 152 मौतें

2. कोरोना की सबसे तेज रफ्तार अब भारत में; 17 दिन में मामले दोगुने हो रहे, अगस्त तक अमेरिका से ज्यादा केस होंगे, सितंबर तक 1 करोड़ मामले

3. ICMR ने कहा- देश में अभी कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं, प्रभावित जिलों में 0.73% आबादी ही कोरोना की चपेट में; लॉकडाउन की वजह से असर कम



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here