• दुनिया में अब तक 3 लाख 77 हजार 404 लोगों की मौत, जबकि 29.303 लाख ठीक हुए
  • अमेरिका में 18.59 लाख से ज्यादा संक्रमित, 1 लाख 6 हजार 925 लोगों की मौत हुई

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 01:53 PM IST

वॉशिंगटन. दुनिया में अब तक कुल 63 लाख 65 हजार 473 लोग संक्रमित हैं। 3 लाख 77 हजार 404 की मौत हो चुकी है। राहत की बात ये कि इसी दौरान 29 लाख 3 हजार 418 स्वस्थ भी हुए। अमेरिका और डब्ल्यूएचओ के बीच रिश्ते बेहद खराब दौर में पहुंच चुके हैं। अमेरिका ने इस संगठन की फंडिंग रोक दी है। अब डब्ल्यूएचओ के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस घेब्रियस ने अमेरिका से संबंध खत्म न करने की अपील की है। ब्राजील में संक्रमण के 12 हजार नए मामले सामने आए हैं। 

कोरोनावायरस : 10 सबसे ज्यादा प्रभावित देश

देश

कितने संक्रमित कितनी मौतें कितने ठीक हुए
अमेरिका 18,59,323 1,06,925 6,15,416
ब्राजील 5,29,405 30,046 2,11,080 
रूस  4,14,878 4,855  1,75,877
स्पेन  2,86,718 27,127 1,96,958
ब्रिटेन  2,76,332 39,045  उपलब्ध नहीं
इटली 2,33,197 33,475  1,58,355 
भारत  1,98,370  5,608 95,754
फ्रांस 1,89,220  28,833 68,440
जर्मनी 1,83,765  8,618 1,65,900
तुर्की  1,70,039 4,634 68,507

ये आंकड़े https://www.worldometers.info/coronavirus/ से लिए गए हैं।

ब्राजील : खराब होते हालात
यहां 24 घंटे में 12 हजार 247 नए मामले सामने आए। इसी दौरान 623 मौतें भी हुईं। परेशान करने वाली बात यह है कि पिछले महीने यानी मई में यहां नए मामले पांच गुना बढ़े। यह आंकड़े हेल्थ मिनिस्ट्री ने ही जारी किए है। एक मई को यहां कुल 91 हजार 589 मामले थे। सोमवार 1 जून को यह आंकड़ा 5 लाख 26 हजार 447 हो गया। अब तक कुल 29 हजार 937 लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका के बाद ब्राजील ही सबसे ज्यादा प्रभावित देश है।

डब्ल्यूएचओ: अमेरिका से अपील
डब्ल्यूएचओ डायरेक्टर जनरल टेड्रोस घेब्रियस ने अमेरिका से रिश्ते खत्म न करने की अपील की है। टेड्रोस ने सोमवार रात जेनेवा में कहा, “अगर अमेरिका हमारे साथ रहता है और मिलकर काम करता है तो इससे वहां के लोगों को फायदा होगा। वह कई दशकों से इस संगठन का हिस्सा रहा है। उसने ही सबसे ज्यादा मदद की है। पूरी दुनिया को इसका लाभ भी मिला। हम चाहते हैं कि अमेरिका रिश्ते खत्म न करे। बल्कि इन्हें ज्यादा बेहतर बनाए।” 

डब्लूएचओ डायरेक्टर जनरल टेड्रोस घेब्रियस ने अमेरिका से संबंध खत्म न करने की अपील की है।

इटली : नया ऐप 
यहां एक नया कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग ऐप लॉन्च किया गया है। इसे सरकार ने मंजूरी दी है। ऐप का नाम इम्यूनि है। हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, जल्द ही इस ऐप का इस्तेमाल कानूनी तौर पर अनिवार्य किया जाएगा। इसे एप्पल या फिर गूगल स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। सरकार का दावा है कि इम्यूनि में इटली और यूरोप के सभी प्राईवेसी नॉर्म्स का ध्यान रखा गया है।  

सोमवार शाम इटली के रोम में वेटिकन म्यूजियम के बाहर खड़े लोग। यहां अब धीरे-धीरे म्यूजियम और बाकी टूरिस्ट प्लेस खोले जा रहे हैं। सरकार का कहना है कि वो जल्द ही एक गाइडलाइन जारी करेगी। इसमें लोगों को नए हेल्थ प्रोटोकॉल की भी जानकारी दी जाएगी। 

ब्राजील : रियो में कल से कारोबार शुरू होगा
ब्राजील को लेकर बेहद चिंताजनक खबरें आ रही हैं। संक्रमण के मामलों में यह दुनिया में दूसरे स्थान पर है। खतरा बढ़ता जा रहा है। लेकिन, राष्ट्रपति बोल्सोनारो की सरकार सबसे बड़े शहर रियो डि जेनेरियो को बुधवार से खोलने जा रही है। हालांकि, यह औपचारिक घोषणा ही कही जाएगी। क्योंकि, यहां जिंदगी पहले की तरह ही है। देर रात तक नाइट क्लब और बार खुले रहते हैं। कई लोग तो मास्क भी नहीं लगाते।  

अमेरिका : फौसी और ट्रम्प में मतभेद?
अमेरिकी नेशनल हेल्थ इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इन्फेक्शियस डिसीज के डायरेक्टर और कोरोनावायरस टास्क फोर्स से सदस्य डॉक्टर एंथोनी फौसी इन दिनों ज्यादा नजर नहीं आते। सीएनएन ने सूत्रों के हवाले से बताया कि राष्ट्रपति ट्रम्प और फौसी के बीच मतभेद गहरा गए हैं। दोनों के बीच दो हफ्ते से कोई मुलाकात या बात नहीं हुई। दोनों की बीच आखिरी मुलाकात 18 मई को हुई थी। जबकि टास्क फोर्स की अंतिम बैठक 28 मई को हुई थी। इसमें ट्रम्प शामिल नहीं हुए थे। 

स्पेन : राहत की खबर
सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में शामिल रहे स्पेन में रविवार को किसी संक्रमित की मौत नहीं हुई। यह जानकारी सरकारी बयान में सोमवार रात दी गई। यहां 27 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। हेल्थ इमरजेंसी के डायरेक्टर जनरल फर्नांडो सिमॉन ने कहा- इससे ज्यादा पॉजिटिव साइन और क्या हो सकता है। हमारी टीम ने दिन-रात मेहनत की है। अब इसके नतीजे दिखने शुरू हो गए हैं। हम लोगों से सहयोग की ज्यादा उम्मीद कर रहे हैं। रविवार को देश के 17 में से 15 रीजन में कोई मामला सामने नहीं आया।  

स्पेन के मैड्रिड शहर में सोमवार को सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करता मेडिकल स्टाफ। देश में संक्रमण लगभग काबू में है। लेकिन, सरकार इस सेक्टर को निजी कंपनी को सौंपना चाहती है। कर्मचारी विरोध कर रहे हैं।  

इजरायल : प्रतिबंध हटे तो नए मामले
इजरायल में लॉकडाउन हटाए जाने के बाद 24 घंटों में 100 से अधिक मामले सामने आए। कुल संक्रमितों की संख्या 17 हजार 619 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। फिलहाल, 2006 एक्टिव केस हैं। 32 आईसीयू में हैं। मौत का आंकड़ा 285 ही है। प्रधानमंत्री नेतन्याहू के ऑफिस के एक कर्मचारी के पॉजिटिव होने की खबर जरूर आई है। 

तस्वीर इजराइल के एक स्कूल की है। यहां स्कूल के बाहर टीचर्स स्टूडेंट्स से बात करके उनकी सेहत के बारे में जानते हैं। थर्मल स्क्रीनिंग भी की जाती है। इजराइल में लॉकडाउन हटने के बाद सोमवार को 100 नए मामले सामने आए।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here