वॉल्ट डिज़्नी की सहायक कपंनी Hotstar ने एक ब्रिटिश कॉमेडियन जॉन ऑलिवर के एक एपिसोड को अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है। इसके पीछे का कारण ऑलिवर द्वारा भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऊपर तंज कसना बताया जा रहा है। हाल ही में ऑलिवर ने अपने लोकप्रिय कार्यक्रम ‘लास्ट वीक टुनाइट’ में विवादों के घेरे में चल रहे नागरिकता संशोधन कानून को लेकर नरेंद्र मोदी पर तंज कसा था। यह कार्यक्रम एचबीओ पर प्रसारित होता है, जिसमें ऑलिवर सिनेमा जगत, राजनीती आदि क्षेत्र के प्रसिद्ध व्यक्तियों को लेकर हसी मज़ाक किया करते हैं। हालांकि शायद उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी कि सीएए को लेकर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर व्यंग कसना उन्हें थोड़ा महंगा पड़ेगा।

जॉन ऑलिवर ने अपने एक हालिया लास्ट वीक टुनाइट शो में सीएए पर विस्तार से चर्चा की थी, जिसके चलते वह ट्विटर पर खूब ट्रेंड भी हुए थे। ऑलिवर के इस शो को लेकर कई दिग्गजों ने ट्वीट भी किया था, लेकिन पीएम मोदी और सीएए को लेकर की गई कुछ टिप्पणियों के चलते इस एपिसोड को भारत में बैन कर दिया गया है।

यूट्यूब पर अभी भी मौजूद इस हालिया एपिसोड में ऑलिवर ने शो की शुरुआत अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा को लेकर की थी, लेकिन बाद में ऑलिवर ने सीएए और पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर भी टिप्णी की। इसमें उन्होंने पीएम मोदी की छवि को “नफरत का अस्थायी प्रतीक” बताया और उनकी तुलना “प्रेम के स्थायी प्रतीक” ताज महल से की। लास्ट वीक टुनाइट का यह एपिसोड पूरी तरह से सीएए-एनआरसी से संबंधित प्रतित होता है।

बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि भारत में किसी शो के एपिसोड को बैन किया गया है। पिछले साल नवंबर में अमेजन प्राइम इंडिया ने सीबीएस शो ‘मैडम सेक्रेटरी’ के सीजन 5 के पहले एपिसोड को भी बैन किया था। इसका पीछा का कारण एपिसोड में हिंदू राष्ट्रवाद से संबंधित बातों का शामिल होना था।

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here