• फुल चार्ज होने के बाद इससे करीब 320 किलोमीटर तक का सफर तय किया जाता है

नरेंद्र जिझोतिया

नरेंद्र जिझोतिया

Feb 08, 2020, 07:23 PM IST

ग्रेटर नोएडा. ऑटो एक्सपो 2020 में हैदराबाद स्थित इलेक्ट्रिक बस मेकर ओलेक्ट्रा-BYD ने अपनी न्यू इलेक्ट्रिक बस ओलेक्ट्रा C9 को लॉन्च कर दिया है। हालांकि, इस बस की कीमत के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं दी गई है। मीडिया डे के दूसरे दिन यानी 6 फरवरी को रोड एंड ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर नितिन गडकरी ने इसे लॉन्च किया था। ये इलेक्ट्रिक बस कई खूबियों से लैस है। साथ ही, इसका माइलेज भी बेहद शानदार है।

320 किलोमीटर की रेंज

कंपनी ने इस इलेक्ट्रिक बस के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इसकी बुकिंग को लेकर मुंबई और हैदराबाद के कुछ लोगों ने दिलचस्पी दिखाई है। यानी हो सकता है कि आने वाले दिनों में ये बस इन शहरों की सड़कों पर दौड़ती नजर आए। अभी इसकी कीमत को लेकर किसी तरह की जानकारी नहीं दी गई है। कंपनी का कहना है कि जीएसटी और सब्सिडी जैसी चीजों को ध्यान रखते हुए इसकी कीमत का जल्द एलान किया जाएगा। 

120 किमी प्रति घंटा है टॉप स्पीड

ओलेक्ट्रा C9 इलेक्ट्रिक बस में 600Ah कैपेसिटी वाली बैटरी लगाई गई हैं। कंपनी का कहना है कि स्लो चार्जर से ये 4 घंटे और फास्ट से 2 से 2.5 घंटे में फुल चार्ज हो जाती है। फुल चार्ज होने के बाद इससे 310 से 320 किलोमीटर तक का सफर तय किया जा सकता है। बस की हाई स्पीड 120 किलोमीटर प्रति घंटा तक है। इसमें जो इलेक्ट्रिक मोटर लगी है वो 1800mn तक का पीक टॉर्क जनरेट करती है।

ओलेक्ट्रा C9 ई-बस का इंटीरियर

ये बस अंदर से बेहद लग्जरी नजर आती है। बस के अंदर ड्राइवर सीट समेत कुल 26 सीट दी हैं। लास्ट रो में 5 और इसके आगे की रो में लेफ्ट और राइट साइड 2-2 सीट का कॉम्बिनेशन दिया है। ड्राइवर सीट के पास कोई दूसरी सीट नहीं दी हैं। इन सभी सीटों को पायलट सीट के जैसा डिजाइन किया गया है। यानी ये पीछे की तरफ झुक जाती हैं और आगे की तरफ इनमें बड़ा लेग होल्डर दिया है। यानी लंबी यात्रा के दौरान पैसेंजर पैर फैलाकर सो सकते हैं। हर सीट पर हैमर और पैनिक बटन भी दिया है।

ड्राइवर की आंख लगी तो बज जाएगा अलार्म

बस में ड्राइवर सीट के सामने सेंसिंग सिस्टम लगा है, ये ड्राइवर के चेहरे को मॉनिटर करता है। यानी ड्राइविंग के दौरान यदि उसकी आंख लगी तो अलर्ट करने के लिए अलॉर्म बजा देगा। पैसेंजर सेफ्टी के लिए भी इसमें कैमरा दिया है। खास बात है कि इसमें जो GPS सिस्टम लगाया गया है, उसे भारतीय कंपनी आई ट्रैंगल ने तैयार किया है। बस में खास किस्म के सस्पेंशन दिए हैं, जो सभी तरह सड़कों जैसे गड्ढे और स्पीड ब्रेकर पर एडजेस्ट करते हैं। कंपनी इस साल इसकी लगभग 300 यूनिट तैयार करेगी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here