दैनिक भास्कर

Sep 28, 2019, 11:41 AM IST

ऑटो डेस्क, क्षितिज राज, ग्रेटर नोएडा. मारुति सुजुकी की नई कार एस-प्रेसो हैचबैक 30 सितंबर को लॉन्च हो रही है। मजे़दार ये है कि जिस रेनो क्विड के लिए मारुति इस कार को ला रही है, उसने अपना रूप बदल लिया है। रेनो क्विड का फेसलिफ्ट वर्जन भी आने ही वाला है। अभी कुछ तस्वीरें सामने आई हैं जो यह बता रही हैं कि एस-प्रेसो के लिए राह आसान नहीं है। बहरहाल, एस-प्रेसो में कंपनी ने जो मेहनत की है, उसका अंदाज़ा आप इन बातों से लगा सकते हैं…

 

  • एस-प्रेसो की डिज़ाइन एसयूवी से प्रभावित है, जिसमें ज्यादा ग्राउंड क्लियरेंस मिलने वाला है।
  • बंपर तगड़ा लुक देते हैं और अंडर बॉडी क्लैडिंग इसे भीड़ से अलग कर देती है।
  • इंटीरिअर भी बेहद अलग तरीके से डिजाइन किया गया है। इसे मिनी-इंस्पायर्ड भी कहा जा सकता है। इसमें ब्लैक बेस कलर मिलेगा और साथ होंगे बॉडी कलर्ड बेज़ल्स। ये एअर कंडीशनिंग वेंट्स को भी कवर करेंगे।
  • 7 इंच का स्मार्टप्ले स्टूडियो टचस्क्रीन इन्फोटेन्मेंट सिस्टम हो सकता है जो वैगनआर के टॉप-एंड वेरिएंट में भी है।
  • इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर को बीच में रखा गया है, इसमें डिजिटल यूनिट भी है। इसी के ठीक नीचे एअर कंडीशनिंग सिस्टम है, जो एक मैन्युअल यूनिट जैसा दिख रहा है। इसी के पास यूएसबी और 12वी सॉकेट है।
  • यह एस कॉन्सेप्ट पर आधारित है, जिसे मारुति ने 2018 ऑटो एक्सपो के दौरान पेश किया था।
  • कंपनी इसमें चार वेरिएंट्स – स्टैंडर्ड, एलएक्सआई, वीएक्सआई और वीएक्सआई+ दे सकती है।
  • कंपनी इसमें दो व्हील साइज 13 इंच और 14 इंच दे सकती है। यह ऑल्टो के मुकाबले ज्यादा चौड़ी और लंबी भी होगी।
  • सेफ्टी फीचर्स में डुअल एयरबैग्स मिलेंगे। एबीएस के साथ ईबीडी और रिवर्स पार्किंग सेंसर्स भी सभी वेरिएंट में दिए जाएंगे।
  • इसमें के10बी बीएस-6 998cc, थ्री-सिलेंडर पेट्रोल इंजन दिया जा सकता है। यह इंजन 68 bhp की ताकत रखता है और 90 एनएम टॉर्क जनरेट कर सकता है। इंजन 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से लैस होगा। एएमटी वर्जन भी दिया जाएगा।

 

क्विड भी हो रही है तैयार

 

इंटीरिअर के मामले में यह क्विड से काफी अलग है। हालांकि अभी तक क्विड के इंटीरिअर की कोई तस्वीरें जारी नहीं हुई हैं, तो कोई दो राय नहीं है कि रेनो इस मामले में चौंका दे। बाहरी तौर पर तो क्विड काफी बदली है। एलईडी डीआरएल्स को ऊपर जगह दी जा रही है और हेडलाइट्स को नीचे शिफ्ट किया गया है, ठीक हुंडे वेन्यू, एमजी हेक्टर और टाटा हैरिअर की तरह। टेल-लाइट्स में भी एलईडी दी जा रही हैं। खूबियां और भी हैं जो वक्त के साथ सामने आएंगी लेकिन यह तय है कि इस सेगमेंट में मुकाबला अब काफी कड़ा होने वाला है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here