PUBG Mobile पहले से ही काफी लोकप्रिय मोबाइल गेम रहा है और वैश्विक महामारी के दौरान इसकी लोकप्रियता और बढ़ गई है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण Sensor Tower की ताज़ा रिपोर्ट है, जिसमें इसके राजस्व में लगातार वृद्धि की जानकारी मिली है। हालांकि इसके “चस्के” के चलते कई विवादित खबरों के सामने आने के कारण Tencent Games के इस बैटल रोयाल गेम को कई आलोचनाओं का सामना भी करना पड़ चुका है। गुरुवार को एक नई रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें दावा किया गया है कि पंजाब के एक किशोर ने पबजी मोबाइल गेम के अंदर खरीदारी करने के लिए उसके माता-पिता के बैंक अकाउंट से 16 लाख रुपये खर्च कर दिए। यह भी बताया गया है कि खागर में रहने वाले इस 17 वर्षीय युवक के पिता ने इन पैसों को चिकित्सा खर्च के लिए जमा किया था और यह उनकी ज़िंदगी भर की कमाई थी।

युवक के माता-पिता का हवाला देते हुए, Tribune India की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि किशोर के पास माता-पिता के तीन बैंक अकाउंट तक पहुंच थी, जिसे वह अपने PUBG Mobile अकाउंट को अपग्रेड करने के लिए इस्तेमाल करता था। कथित तौर पर किशोर ने अपने साथियों के लिए भी इन-ऐप खरीदारी की। रिपोर्ट में कहा गया है कि परिवार को इसके बारे में बैंक स्टेटमेंट के जरिए पता चला।

बताया जाता है कि नाबालिग के पिता एक सरकारी कर्मचारी हैं और और वह बिमार भी रहते हैं। पिता, जिन्होंने अपने नाम का खुलासा न करने की इच्छा जताई, ने ट्रिब्यून इंडिया को बताया कि 17 वर्षीय युवक अपनी मां के साथ रहता था और पिता कहीं और पोस्टेड थे। पिता ने कहा, “उसने सभी लेन-देन करने के लिए मां के मोबाइल फोन का इस्तेमाल किया और अकाउंट से डेबिट हुई राशि के बारे में आने वाले बैंक के मैसेजों को हटा दिया।”

रिपोर्ट में आगे दावा किया गया है कि माता-पिता ने सोचा कि 17 वर्षीय “स्मार्टफोन का उपयोग ऑनलाइन पढ़ाई के लिए” कर रहा था। घटना के बाद, PUBG Mobile पर अधिक समय न बिताने देने के लिए, युवक को एक रिपेयरिंग की दुकान में काम पर लगा दिया गया है। पिता ने कहा “मैं उसे घर में बेकार बैठने नहीं दे सकता और उसे पढ़ने के लिए तक के लिए मोबाइल फोन नहीं दे सकता।”

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here