एचटीसी डिजायन 626 डुअल सिम स्मार्टफोन को करीब एक साल पहले ग्लोबली लॉन्च किया गया था। लेकिन इस स्मार्टफोन ने भारत में इस साल फरवरी में एक अलग प्रोसेसर और डुअल सिम सपोर्ट के साथ एंट्री की। 13,990 रुपये की कीमत वाले एचटीसी के इस स्मार्टफोन मिड रेंज स्मार्टफोन शाओमी रेडमी नोट 3 (रिव्यू) और लेनोवो वाइब के4 नोट (रिव्यू) से कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है।

आज हम एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम स्मार्टफोन का रिव्यू करेंगे और जानेंगे कि एचटीसी का यह स्मार्टफोन क्या खरीदने लायक है? साथ ही जानेंगे, क्या हैं इस स्मार्टफोन की खूबियां और कमियां।

लुक और डिजाइन
डिजायर 626 डुअल सिम का डिजाइन एचटीसी की डिजायर रेंज के दूसरे स्मार्टफोन जैसा ही है। फोन प्लास्टिक बॉडी का बना है और डुअल टोन कलर स्कीम के साथ आता है। यह फोन एचटीसी के लोकप्रिय स्मार्टफोन एचटीसी डिजायर 820  से काफी मिलता-जुलता है। लेकिन इसका स्क्रीन छोटा है। फोन पकड़ने और इस्तेमाल करने में सुविधाजनक है। फोन देखने में अच्छा है और सुखद अहसास देता है।  
 

फोन के फ्रंट में एक फ्रंट कैमरा है और टॉप पर ईयरपीस ग्रिल है। नीचे की तरफ एक स्पीकर और माइक्रोफोन है। हालांकि, प्लास्टिक का रियर पैनल रिमूवेबल है लेकिन बैटरी को फोन से अलग नहीं किया जा सकता। फोन में दायीं तरफ प़वर व वॉल्यूम बटन हैं, ऊपर की तरफ 3.5 एमएम ऑडियो शॉकेट है। नीचे की तरफ माइक्रो-यूएसबी पोर्ट और बायीं तरफ एक फ्लैप है जिसमें दो नैनो-सिम स्लॉट और एक अलग माइक्रोएसडी स्लॉट दिया गया है।

रियर पैनल पर एक कैमरा, सिंगल-टोन एलईडी फ्लैश और एक माइक्रोफोन के लिए एक छोटा छेद है। हमारी रिव्यू यूनिट व्हाइट कलर की थी जिसे हमें लगतार सफाई करने की जरूरत पड़ रही थी। कुल मिलाकर, डिजायर 626 डुअल सिम का लेआउट नया है और कीमत के हिसाब से इस स्मार्टफोन का डिजाइन अच्छा है।
 

एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम में 720×1280 पिक्सल रिजॉल्यूशन वाला 5 इंच स्क्रीन है। स्क्रीन की डेनसिटी 294 पीपीआई है। स्क्रीन शार्प और पढ़ने योग्य है लेकिन कलर और ब्राइटनेस थोड़े कम हैं। कलर थोड़े भद्दे और बनावटी लगते हैं जबकि एक ही तस्वीर के अलग-अलग हिस्सों में ब्राइटनेस अलग-अलग दिखती है।

स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर
स्पेसिफिकेशन के हिसाब से देखा जाए तो डिजायर 626 स्मार्टफोन को 2015 का ही स्मार्टफोन कहा जाएगा। इस फोन में 1.8 गीगाहर्ट्ज़ पर चलने वाला ऑक्टा-कोर मीडियाटेक एमटी6752 दिया गया है। इस प्रोसेसर को 2014 में रिलीज किया गया था और आज इस कीमत में उपलब्ध दूसरे डिवाइस में दिए प्रोसेसर की तुलना में यह एक पुराना प्रोसेसर है। फोन नें 16 जीबी इंटरनल स्टोरेज है जिसे माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए (32 जीबी तक) तक बढ़ाया जा सकता है। फोन में 2जीबी रैम है। बैटरी 2000 एमएएच की है। फोन दोनों सिम स्लॉट में 4जी (एफडीडी बैंड 3 और टीडीडी बैंड 40) सपोर्ट करता है। फोन के कुछ ग्लोबल वेरिएंट में क्वालकॉम का स्नैपड्रैगन 410 प्रोसेसर दिया गया है लेकिन भारत में यह वेरिएंट उपलब्ध नहीं है।

इसके अलावा सॉफ्टवेयर के मामले में भी फोन पुराना मालूम पड़ता है। एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम एंड्रॉयड 4.4.4 पर चलता है और लेटेस्ट वर्जन से पूरे दो जेनरेशन पीछे है। यह वाकई अजीब है जबकि आज बाजार में डिजायर 626 से कम दाम में एंड्रॉयड 6.0 पर चलने वाले दूसरे फोन उपलब्ध हैं।
 

इसके अलावा एचटीसी की सेंस पर भी यही बात लागू होती है। स्किन पुरानी है और नए वर्जन के मुकाबले कम फीचर से लैस है। नोटिफिकेशन शेड से लेकर ऐप स्विचर तक पुराने मालूम पड़ते हैं।

जाहिर सी बात है, एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर में उन स्मार्टफोन से पीछे रह गया है जो आज बाजार में 15,000 से कम रूपये वाली कैटेगरी के स्मार्टफोन में मौजूद हैं। फोन में फिंगरप्रिटं सेंसर भी नहीं है। पुराने सॉफ्टवेयर की वजह से कई विकल्प भी नहीं मिलते। इनमें ऐप परमिशन भी शामिल है। इसके अलावा, लेनोवो वाइब के4 नोट और रेडमी नोट 3 में ज्यादा रिजॉल्यूशन स्क्रीन, रैम, बेहतर स्पीकर, ऑडियो एनहेंसमेंट और ज्यादा दमदार प्रोसेसर है।
 

कैमरा
एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम में सिंगल-टोन एलईडी फ्लैश के साथ 13 मेगापिक्सल का रियर कैमरा है। फोन में 5 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है। दोनों कैमरों से 1080 पिक्सल तक की रिकॉर्डिंग की जा सकती है। रियर कैमरे से मल्टी-एंगल, पैनोरमा, मोशन ट्रैकिंग, एचडीआर और स्लो-मोशन वीडियो शूट किए जा सकते हैं।

डिजायर 626 में कैमरा ऐप एचटीसी के टिपिकल कैमरा ऐप की तरह नहीं है लेकिन हाल ही में आए कई बजट स्मार्टफोन की तरह ही है। निराश करने वाली बात है कि एचटसी सेंस एक अच्छा यूजरइंटरफेस स्किन है क्योंकि इसका कैमरा ऐप शानदार होता है। हालांकि, इस फोन में दिया गया ऐप भी खराब नहीं है। ऐप में सभी काम आसानी से किए जा सकते हैं और तस्वीरें भी फटाफट ली जा सकती हैं।
 

हालांकि, इस फोन का कैमरा ही निराश करता है। तस्वीरें धुंधली दिखती हैं और इसका मतलब है कि तस्वीरों में शार्पनेस की बहुत ज्यादा कमी है। ऑब्जेक्ट साफ दिखने के बावजूद मोशन में तस्वीरें कैद करना कठिन होता है। चमकदार दृश्य ओवर सैचुरेटेड हो जाते हैं जबकि डल तस्वीरें डार्क और बिखरी हुई आती हैं।

कम रोशनी और क्लोज-अप शॉट में भी यही समस्या देखने को मिलती है। क्लोज-अप शॉट भी धुंधले, बिखरे हुए आते हैं और वॉश्ड आउट हो जाते हैं। साफ शब्दों में कहें तो एचटीसी डिजायर 626 से तस्वीरें औसत से कम क्वालिटी की आती हैं। इस प्राइस रेंज के किसी भी फोन के कैमरे से तुलना नहीं की जा सकती।
 

परफॉर्मेंस
आज के स्टैंडर्ड के हिसाब से एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम की परफॉर्मेंस बहुत ज्यादा खराब नहीं है। लेकिन इसे बुहत अच्छा भी नहीं कहा जा सकता। फोन कभी-कभी हैंग होता है लेकिन फोन चलाने में आसान है। पुराने सॉफ्टवेयर की वजह से भारी भरकम ऐप चलाने में दिक्कत आई। ऐप अचानक से बंद हो जाते हैं लेकिन सामान्य इस्तेमाल के लिए फोन सुविधाजनक है। हालांकि, फोन में वैसा कुछ भी नहीं है जो इस कीमत वाले दूसरे फोन ऑफर कर रहे हैं।

हमारे बेंचमार्किंग टेस्ट में हमें एचटीसी डिजायर 626 की तुलना इसी प्रोसेसर वाले लेनोवो वाइब एस1 से करनी पड़ी। ग्राफिक बेंचमार्क आंकड़े शानदार रहे लेकिन दूसरी जगह यह फोन लेनोवो वाइब एस1 (रिव्यू) को भी टक्कर नहीं दे पाया। गौर करने वाली बात है वाइब एस1 की कीमत अब कम होकर 12,999 रुपये रह गई है जो कि डिजायर 626 से कम है।

एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम में 2000 एमएएच की बैटरी है जो हमारे वीडियो लूप टेस्ट में 6 घंटे 5 मिनट तक चली। बैटरी लाइफ आजकल आरहे दूसरे डिवाइस की बैटरी लाइफ से काफी कम है। सामान्य इस्तेमास में भी फोन की बैटरी बहुत जल्दी खर्च हो जाती है। पूरी तरह चार्ज बैटरी के साथ हम एक दिन तक भी फोन को नहीं चला पाए। फोन का मोनो स्पीकर भी खराब है और काफी धीमा साउंड देता है। बहरहाल, फोन में वाई-फाई और सेल्युलर नेटवर्क एंटीना बहुत अच्छे से काम करते हैं और हम अपने नेटवर्क पर अच्छे से काम कर पाए।
 

हमारा फैसला
ये वो दौर है जब एक प्रीमियम स्मार्टफोन को पुराने होने में कुछ महीने लगते हैं। एचटीसी द्वारा इस कीमत में एक साल पुराना स्मार्टफोन लॉन्च करने की कोई वजह नजर नहीं आती है। ग्राहकों को भी पता है कि आज बाजार में इस कीमत में या कम कीमत में ज्यादा लेटेस्ट स्पेसिफिकेशन के साथ दूसरे विकल्प मौजूद हैं। फोन का शानदार डिजाइन भी दूसरे डिवाइस (प्राइस रेंज के हिसाब से) जैसा है, इस स्मार्टफोन को खरीदने का हमें कोई कारण समझ नहीं आता है।

एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम बिल्कुल भी 2016 के लिए नहीं बनाया गया है। कंपनी द्वारा भारतीय बाजार में अपनी पकड़ बनाए रखने की कोशिश में यह एक बेकार प्रयास है। फोन पुराने हो चुके हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर पर चलता है। बैटरी लाइफ खराब है और उम्मीद से कम फीचर हैं। हम आपको सलाह देंगे कि एचटीसी डिजायर 626 डुअल सिम ना खरीदें और इसकी जगह शाओमी रेडमी नोट 3 या लेनोवो वाइब के4 नोट जैसा कोई विकल्प चुनें।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here